सोटेरो अरांगुरेन

सोटेरो अरांगुरेन

1911 - 1918

  • पूरा नामसोटेरो आरंगुरेन लाबाईरू
  • जन्म स्थानब्यूनस आयर्स (अर्जेंटीना)
  • जन्म तिथि06/05/1894
  • पूरा नामसोटेरो आरंगुरेन लाबाईरू
  • जन्म स्थानब्यूनस आयर्स (अर्जेंटीना)
  • जन्म तिथि06/05/1894

पोजिशन: लेफ्ट विंगर
मैच खेले: 60 आधिकारिक मैच
गोल: 4

सोटेरो अरांगुरेन की प्रतिमा आज के दौर में रियल मैड्रिड की सीनियर टीम में लगी हुई है। अपने भाई उलोगिंयो के साथ वह रियल मैड्रिड से जुड़ने वाले पहले अर्जेंटीना के खिलाड़ी थे। वह एक तेज और काबिल विंगर थे, जिसने अपने करियर का आगाज सैन सेबेस्टियन में ईशो के साथ की थी। जब रियल मैड्रिड बदलाव के दौर से गुजर रही थी तब इस
खिलाड़ी ने 17 साल की उम्र में क्लब जॉइन किया।

इस सीजन में कोमाला, सौरा और बर्नबेऊ जैसे खिलाड़ी रियल मैड्रिड के साथ जुड़े, जिसकी वजह से टीम के खेल में काफी सुधार देखने को मिला और उन्होंने काफी खिताब भी जीते। अर्जेंटीना के इस खिलाड़ी ने रियल मैड्रिड की तरफ से खेलते हुए इस खिलाड़ी ने 3 रीजनल चैंपियनशिप जीती, इसी के साथ 1917 में स्पेनिश कप का खिताब भी
अपने नाम किया।

सोटेरो उस टीम के सबसे विश्ववनीय खिलाड़ियों में से एक थे और बॉल पर उनके कंट्रोल और खेल के प्रति जागरुकता के कारण वह फैंस की पहली पसंद रहते थे।

रियल मैड्रिड को छोड़ने के 4 साल बाद 26 फरवरी 1922 को उनका निधन हो गया। उनके निधन से पूरा स्पेनिश फुटबॉल सदमे में चला गया
था। सोटेरे के निधन के कुछ दिन बाद एक और महान खिलाड़ी माचिम्बेरेना ने दुनिया को अलविदा कह दिया। इन दोनों के निधन के बाद क्लब ने इन दोनों की याद में मूर्ति बनवाई।

सम्मान

  • 1 स्पेनिश कप,
  • 3 रीजनल चैंपियनशिप