LazoGanadores de Champions LeagueOtro

2001-2010

इस दशक में रियल मैड्रिड ने महाद्वीप पर जीत के लिए एक शानदार वापसी की। उन्होंने इस दौरान अपना नौवां यूरोपियन कप और तीसरा इंटरकांटिनेंटल कप के साथ अन्य पांच खिताब जीते वहीं पांच लिगास भी जीते। इसके अलावा, फ्लोरेंटिनो पेरेज़ ने क्लब की अर्थव्यवस्था को पुनर्गठित किया और फिर ये क्लब दुनिया के सबसे अमीर क्लब के तौर पर उभरा।
 

विसेंट डेल बोस्क 2003 तक क्लब के मैनेजर रहे। उनकी फिलॉस्फी और ब्रांड ऑफ फुटबॉल ने मैड्रिड को चैंपियन टीम बनाया। उनके पद पर रहते हुए आखिरी समय में, रियल मैड्रिड ने एक और यूरोपियन कप, एक और इंटरकांटिनेंटल कप, दो घरेलू चैंपियनशिप, एक सुपर कप ऑफ स्पेन और एक यूईएफए सुपर कप जीता। यह एक ऐसी टीम थी जिसकी तुलना केवल 50 और 60 के दशक की रियल मैड्रिड के साथ की जा सकती थी।
 
फ्लोरेंटिनो पेरेज़ के प्रबंधन ने क्लब के स्ट्रक्चर में बड़ा बदलाव किया। उन्होंने संस्थान की अर्थव्यवस्था को पुनर्गठित किया, जिससे यह दुनिया का सबसे अमीर क्लब बन गया, और संगठन के टॉप अधिकारियों के बीच भी बदलाव किए गए। उन्होंने सैंटियागो बर्नाब्यू को पूरी तरह से पुनर्निर्मित किया, वाल्डेबेबास में एक नया खेल कॉम्पलैक्स बनाया और अल्फ्रेडो डी स्टेफानो स्टेडियम खोला। इस बीच, पिच पर, उन्होंने जिदान, रोनाल्डो और बेकहम को लाकर प्रशंसकों के सपनों को सच कर दिया।
 
उसी वर्ष 3 जुलाई को, रामोन काल्डरॉन को रियल मैड्रिड के अध्यक्ष के रूप में चुना गया था। उनके नेतृत्व में, टीम ने दो ला लीगा खिताब और एक स्पेनिश सुपर कप जीता। 16 जनवरी 2009 को, उन्होंने पद छोड़ दिया और उनकी जगह विसेंट बोलुदा ने ले ली, जिन्होंने उस समय तक उपाध्यक्ष के रूप में काम किया था। 1 जून 2009 को, फ्लोरेंटिनो पेरेज़ को रियल मैड्रिड का प्रेसिडेंट नियुक्त किया गया।
 
अपने दूसरे स्पेल (2006) में, प्रेसिडेंट ने समर्थकों को खुश करना जारी रखा, दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों और मैनेजरों को साइन किया। मैनेजर जोस मोरिन्हो के साथ क्रिस्टियानो रोनाल्डो और बेंज़ेमा जैसे महान खिलाड़ियों को लाया गया था। एक हफ्ते के बाद, पुर्तगाली उसी मैदान में इंटर मिलान को हराने के बाद यूरोप का चैंपियन बनने के बाद, सैंटियागो बर्नाब्यू आए।

2001 - 2010
  1. नौवें यूरोपियन कप के किंग

    जिनेदीन जिदान ने मैड्रिड को बेयर लीवरकुसेन के खिलाफ चैंपियंस लीग के फाइनल में जीत दिलाने के लिए एक शानदार गोल किया।

  2. दुनिया पर प्रभुत्व

    रियल मैड्रिड ने योकोहामा स्टेडियम में अपना तीसरा इंटरकांटिनेंटल कप जीता।

  3. मैड्रिड ने जीता नौवां यूरोपियन कप टाइटल

    टीम के बाराजस में आते ही फर्नांडो हायरो और राउल गोंजालेज ने यूरोपियन कप को हाथों में उठा लिया।

  4. एक बेहतरीन सीजन की शुरुआत

    स्पेनिश सुपर कप जीतने के लिए ज़रागोज़ा के खिलाफ जीत एक शानदार अभियान की शुरुआत थी जो यूरोपीय कप खिताब के साथ समाप्त होनी थी।

Siguiente Anterior

एक ऐतिहासिक शतक

6 मार्च 2002 को, रियल मैड्रिड ने अपना 100 वां जन्मदिन मनाया। प्रशंसकों ने क्लब द्वारा 100वें साल में आयोजित कई यादगार कार्यक्रमों के साथ एक गहन और भावनात्मक साल का आनंद लिया। किंग जुआन कार्लोस को इस मौके पर अध्यक्ष बनाया गया, जिसके जरिए क्लब यह बताना चाह रहा था कि वह एक शहर या देश का नहीं बल्कि पूरी दुनिया का क्लब है, और उसका इतिहास भी कमाल का रहा है। और भी ज्यादा खुश करने वाला मौका तब आया जब सीजन के अंत में टीम ने नौवां यूरोपियन कप, तीसरा इंटरकांटिनेंटल कप और पहला यूईएफए सुपर कप जीतने का कारनामा अपने नाम किया।

A historical one hundred

दो लगातार लीग

2006-07 सीज़न में, फैबियो कैपेलो रियल मैड्रिड में लौट आए और उनकी नई टीम में ट्रांसफर होते ही जीतने की आदत ने क्लब को 30वां लीग टाइटल जितवा  दिया। यह वह जीत थी जिसका बीज 18 मार्च 2007 को बो दिया गया था। बार्सिलोना (3-3) के खिलाफ शानदार मैच के बाद, टीम ने कई महत्वपूर्ण बदलाव किए। पिछले 12 मैचों में टीम ने 10 जीते थे, एक ड्रॉ किया और एक हारा। 2007-08 सीज़न में क्लब एक बार फिर विजयी रहा। मैड्रिड टीम ने अपने इरादों को शुरू से ही स्पष्ट कर दिया, जो मैचडे 2 से ही दिखना शुरू हो गए थे।

Two consecutive leagues

पुरस्कार

यूरोपियन कप - 1

यूरोपियन कप

1
यूरोपियन सुपर कप - 1

यूरोपियन सुपर कप

1
इंटरकांटिनेंटल कप - 1

इंटरकांटिनेंटल कप

1
लिगास - 4

लिगास

4
स्पेनिश सुपर कप - 3

स्पेनिश सुपर कप

3
कोपास डेल रे - 1

कोपास डेल रे

1
Siguiente Anterior
Search