एमिरेट्सएडिडास

डी स्टीफ़ानो अल्फ्रेडो डि स्टेफानो लुल्हे

1953 · 1964
दफ्तर
फॉरवर्ड
जन्म स्थान
ब्यूनोस एयर्स (अर्जेंटीना)
जन्म का साल
04/07/1926

अबतक के सबसे शानदार फुटबॉलर

पोज़ीशन: फॉरवर्ड
मैच खेले: 396 आधिकारिक मुकाबले
गोल्स: 308
स्पैनिश इंटरनेशनल: 31 मैच

रियल मैड्रिड इतिहास के सबसे शानदार खिलाड़ी| वो अटैक भी कर सकते हैं, डिफेंड भी बल्कि हर पोज़ीशन में खेलने में माहिर| मैदान के अंदर हो या बाहर, वो टीम के लिए लीडर के रूप में थे| उनकी वजह से टीम ने फुटबॉल इतिहास में काफ़ी ऊंचाइयां हासिल की| इस दौरान उनकी टीम ने लगातार 5 बार यूरोपियन कप पर अपना कब्ज़ा जमाया जिसने पूरी फुटबॉल दुनिया को हिलाकर रख दिया| उन्हें साल 1957 और 1959 में बैलन डी ओर ख़िताब से भी सम्मानित किया गया| वो दुनिया के एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें सुपर बैलन डी ओर का पुरस्कार मिला| उन्हें 1989 में वो ट्रॉफी मिली थी जो आज भी रियल मैड्रिड के म्यूजियम में रखी है|

19 साल की उम्र में उन्होंने रिवर प्लेट के लिए शीर्ष स्तर पर अपन डेब्यू किया और जब वह 21 साल के थे तब उन्होंने अर्जेंटीना लीग में जीत हासिल की और उस प्रतियोगिता में वो टॉप स्कोरर भी रहे। अर्जेंटीना
फुटबॉल में हुए जेनेरल स्ट्राइक की वजह से उन्हें कोलंबिया की ओर रुख करना पड़ा जहाँ उन्होंने मिलियनरियोस के लिए खेला| उनके शानदार प्रदर्शन को देखते हुए रियल मैड्रिड और बार्सिलोना के बीच उन्हें साइन करने की जंग शुरू हुई| आखिर में वाइट्स ने उन्हें अधिक पैसे देकर खरीद लिया|

उनकी डिक्शनरी में महज़ एक ही शब्द था और वो थाजीत| रियल मैड्रिड में उनका सफ़र काफ़ी कामयाब रहा| इस क्लब के लिए उन्होंने 11 सीज़न खेलते हुए 18 ट्रॉफी दिलाई और कुल 308 आधिकारिक गोल दागे जिसने उन्हें फैन्स का हीरो बना दिया| यूरोपियन कप फाइनल में उनके द्वारा किया गया गोल आज भी लोगों के ज़हन में ताज़ा है|

उनके कार्यकाल के दौरान रियल मैड्रिड ने पूरी तरह से स्पैनिश और यूरोपियन फुटबॉल पर अपना कब्ज़ा जमाया हुआ था और स्टीफानो ला जादू सर चढ़कर बोल रहा था| बाद में उन्होंने स्पेन की राष्ट्रीयता हासिल की और उनके लिए 31 मुकाबले खेले| जबकि वहां वो किसी भी अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता के फाइनल स्टेज में नहीं खेल पाए|

द गॉडफ़ादर ऑफ़ 'क्विनटा डेल बुइट्रा'(वल्चर स्क्वाड्रोन)

बतौर कोच उन्होंने युवाओं को एक बेहतरीन राह दिखाई जिससे वो अपने अपने कल्ब में शोहरत हासिल कर पाए| बुत्रागुएनो, सैन्चिज़, मार्टिन वेज़क्वेज़ और पार्डेज़ाउनकी पहली रेगुलर टीम रही जहाँ उन्होंने कोचिंग दी| उन्होंने अपना कोचिंग करियर बोका जूनियर्स से शुरू किया जिसने अर्जेंटीनियन लीग और एक कप जीता|

उसके बाद उन्होंने स्पेन का रुख किया जहाँ उन्होंने वैलेंसिया को ट्रेनिंग दी जिसने 1971 में ला लीगा ख़िताब जीता| स्पोर्टिंग लिस्बन, रायो वैलेकानो, और कैस्टीलोन को ट्रेनिंग देने के बाद उन्होंने वैलेंसिया का रुख किया और उन्हें 1980 यूएफ़ा कप का विजेता बनाया|

1982 में उन्होंने रियल मैड्रिड में कोच के रूप में अपना पहला पीरियड शुरू किया और दो सीज़न में उन्होंने टीम को फिर से खड़ा कर दिया जिसने पांच प्रतियोगिताओं में उपविजेता तक का सफ़र पूरा किया। 1990 नवम्बर में उन्होंने इस पद को जॉन तोशक से हासिल किया| इस
बार वह पांच महीने तक फर्स्ट टीम के कोच के रूप में रहे जहाँ टीम ने बार्सिलोना के खिलाफ स्पेनिश सुपर कप में जीत हासिल की| इसके बाद उन्हें क्लब का प्रेसिडेंट भी बनाया गया और 7 जुलाई 2014 को उनकी मृत्यु हो गई|

 


सम्मान

सम्मान बतौर खिलाड़ी
5 यूरोपियन कप
1 इंटरकॉन्टिनेंटल कप
2 लैटिन कप
8 लीगास
1 स्पैनिश कप

सम्मान बतौर कोच
1 स्पैनिश सुपर कप

Search