एमिरेट्सएडिडास

2001-2010

इस नई सदी ने बास्केटबॉल के खेल में काफी बदलाव लाए। जिसमें यूरोलीग का उद्घाटन, नियमों में बदलाव, टीम का निर्माण और एनबीए के वैश्वीकरण जैसे बदलाव शामिल रहे। इस दशक में क्लब अपनी मजबूती के साथ खड़ा रहा और क्लब ने कई खिताब जीतने और अपनी प्रतिष्ठा को बनाए रखना का प्रयास किया।

2000-01 सीज़न में एक नई प्रतियोगिता यूरोलीग का जन्म हुआ। इसके साथ ही क्लबों ने आधुनिक युग में ऐतिहासिक यूरोपियन कप (जिसे बाद में यूरोपियन लीग कहा जाता है) को अपना लिया। जहां पहली बार का खेल रियल मैड्रिड-ओलंपियाकोस के बीच हुआ, जो पुराने सिउदाद डेपोर्टिवा में खेला गया, जिसे 1999 में रायमुंडो सपोर्टा नाम दिया गया था। हालांकि यह ड्रा का मौका नहीं था, लेकिन रियल मैड्रिड की यूरोप के एक राजा के तौर पर पहचान थी।

2001 - 2010
  1. हेरेरोस रहे मैच के विनर

    रियल मैड्रिड ने बास्केटबॉल खिलाड़ी अल्बर्टो हेरेरोस के आखिरी मिनटों में एसीबी लीग का खिताब अपने नाम किया और इसी के साथ मैड्रिड ने इस ऐतिहासिक करियर का सहीं अंत दिया।

  2. कोपा यूएलईबी में जीत

    10 अप्रैल 2007 को रियल मैड्रिड कोपा यूएलईबी की विजेताओं की सूची में शामिल हुआ। वहीं, चार्ल्स स्मिथ लिटुवोस के खिलाफ फाइनल के एमवीपी थे।

  3. सर्जियो लुल्ल: शक्तिशाली और साहसी खिलाड़ी

    उन खिताबों के आलावा 2006-07 के सीज़न में सर्जियो लुल्ल को साइन किया गया, जो उस सीज़न की अच्छी खबर थी। वहीं, महोन खिलाड़ी रियल मैड्रिड की जनता पर ज्यादा देर तक दबाव नहीं बना सके।

  4. भविष्य को संवारना

    सर्जियो रॉडिग्रेज़ के दबाव की वजह से 2009 में लुल्ल एनबीए से रियल मैड्रिड लाए गए। वह एक बेहतरीन प्वाइंट गार्ड के पार्टनरशिप के रूप में क्लब में शामिल हुए।

Siguiente Anterior

एक यादगार फाइनल मुकाबला

रियल मैड्रिड अपने इतिहास में फाइनल मुकाबलों की लंबी सूची में शामिल रहा है, जहां 2005 में एसीबी लीग का प्रदर्शन सबसे अविस्मरणीय था। रियल मैड्रिड ने टाऊ के खिलाफ खिताबी मुकाबला खेलते हुए प्लेऑफ सीरीज खेली, जो पांचवें मुक़ाबले तक गई और उसे विटोरिया में खेला गया। यह एक कड़ा मुकाबला साबित हुआ, लेकिन आखिरी मिनट में मेजबान टीम स्कोरबोर्ड पर आगे जाने में कामयाब रही और घड़ी में 42 सेकंड शेष रहते हुए आठ प्वाइंट्स की बढ़त हासिल कर ली, जहां उनके प्रशंसक पहले से ही इस लीग की जीत का जश्न मनाना शुरू कर चुके थे। हालांकि, इस दौरान मैड्रिड ने हार नहीं मानी और अपने बेहतरीन प्रदर्शन से, अटैकिंग और डिफेंसिव स्किल से मुकाबला अपने पक्ष में कर लिया। इसी के साथ अल्बर्टो हेरेरोस ने इतिहास में हाथ से निकल रहे मुकाबले को 69-70 के अंतिम स्कोर से सील कर दिया। बताते चलें कि इस खिलाड़ी को दोनों टाइटल के लिए लाया गया था क्योंकि उनका बास्केटबॉल खिलाड़ी के रूप में आखिरी योगदान था। मैड्रिड में जन्मे स्मॉल फॉरवर्ड ने अपने करियर को एसीबी लीग (8,995 अंक) में सर्वकालिक सर्वोच्च स्कोरर के तौर पर खत्म किया और उसके बाद क्लब के बास्केटबॉल विभाग में खेल निदेशक बन गए।

सबसे बेहतरीन फाइनल

एक शानदार टीम

2006 में रियल मैड्रिड ने जोआन प्लाजा को टीम की जिम्मेदारी सौंपी, जो पहले सहायक कोच के रूप में थे। बताते चलें कि इस बदलाव का नतीजा एक ऐसी टीम को बनाना था, जहां एसीबी लीग के बाद खिलाड़ी चले गए थे और वह सिर्फ क्लब के इतिहास के हिस्से के रूप में रह गए थे, जैसे कि फेलिप रेयेस (एमवीपी के फाइलन में) और लुइस बुलॉक। वहीं, 2007 में रियल मैड्रिड ने भी यूएलइबी कप का खिताब हासिल किया, जो 1997 के बाद से उनका पहला यूरोपियन खिताब जीता। इस शानदार सीज़न की महान सफलताओं में एक नौजवान खिलाड़ी सर्जियो लुल्ल भी शामिल रहे।

एक रोमांचक टीम

सम्मान

ऊलेब कप - 1

ऊलेब कप

1
लिगास - 2

लिगास

2
क्रिसमस टूर्नामेंट - 2

क्रिसमस टूर्नामेंट

2
Siguiente Anterior
Search