स्टेलिक

स्टेलिक

1977 - 1985

  • पूरा नामउलरिच स्टेलिक
  • जन्म स्थान
  • जन्म तिथि15/11/1954
  • पूरा नामउलरिच स्टेलिक
  • जन्म स्थान
  • जन्म तिथि15/11/1954

जर्मन ‘पैंजर’

पोजिशन- मिडफील्डर
मैच खेले- 308
गोल स्कोर- 50
जर्मन इंटरनेशनल- 42 कैप

स्टेलिक मिडफील्ड पोजिशन में अपनी बेहतरीन खेल और प्रबलता के लिए जाने जाते हैं। इस जर्मन खिलाड़ी ने अपनी पोजिशन पर रहते हुए
शानदार प्रदर्शन और अपने खेल से सभी को स्तब्ध करने के लिए जाने जाते हैं। यह जुझारू फुटबॉलर जिसने रियल मैड्रिड के साथ आठ सीज़न गुज़ारे और फिर क्लब को अलविदा कह दिया। इस दौरान स्टेलिक ने छह खिताब हासिल किए।

स्टेलिक ने अपने पैतृक शहर एसपीवीजीजी में खेलना शुरू किया था। वह 1973 तक अपने पैतृक शहर में रहे, जब उन्होंने बोरशिया मौनचेंगलाडबाख के साथ खेलने के लिए करार किया। इस टीम के
साथ उन्होंने तीन खिताब हासिल किया। जिसमें एक बुंडेसलीगा खिताब, एक जर्मन कप खिताब और एक यूईएफए कप खिताब शामिल था। 1977 में वह रियल मैड्रिड के साथ करार किया और अपने करियर को एक नई दिशा दी।

क्लब के अध्यक्ष ने बोरसिया टीम के खिलाड़ी (हर्बर्ट विमर) के साथ करार करने को लेकर जर्मनी की यात्रा की। जहां उन्हें स्टेलिक उली
खेलते हुए दिखे, जिसके बाद उन्होंने विमर के साथ करार करने को लेकर मन बदल दिया। बता दें कि स्टेलिक टॉप श्रेणी के एक बेहतरीन खिलाड़ी थे, जिन्होंने अपने खेल से मैदान पर एक अलग छाप छोड़ी। अध्यक्ष ने मैड्रिड में जुआनिटो, कैमाचो और गोयो बेनिटो जैसे बेहतरीन खिलाड़ियों के साथ उनकी तुलना की।

अपने डेब्यू सीज़न में स्टेलिक ला लीगा में 13 गोल के साथ सबसे बड़े दूसरे गोल स्कोरर थे। पहले नंबर सेंटिलाना सबसे बड़े गोल स्कोरर थे।
मिडफील्ड में उनकी भूमिका एक स्वीपर के रूप में थी, जिसने टीम को उस सीज़न में ला लीगा खिताब हासिल करने में मदद की। इसके साथ ही दो और खिताब भी थे। स्टेलिक ने 1985 में क्लब को छोड़ दिया और स्विट्जरलैंड में न्यूचैटेल के लिए खेलने लगे और उसके बाद वह रिटायर हो गए।

सम्मान

  • 1 यूइएफए कप
  • 3 ला लीगा
  • 2 स्पेनिश कप