रेने पेटिट

रेने पेटिट

1914 - 1917

  • पूरा नामरेनाटो पेटिट दे ओरी
  • जन्म स्थान
  • जन्म तिथि08/08/1899
  • पूरा नामरेनाटो पेटिट दे ओरी
  • जन्म स्थान
  • जन्म तिथि08/08/1899

पहला व्हाइट स्टार खिलाड़ी

पोजिशन: फॉरवर्ड
मैच खेले:
29
गोल किए: 14
फ्रांस की तरफ से इंटरनेशनल: 2 मैच

एक संपूर्ण फुटबॉलर, शारीरिक रूप से उत्कृष्ट, उससे अधिक महत्वपूर्ण बात यह सभी तरह की काबिलियत से संपन्न था। पेटिट ने जो प्रतिभा दिखाई, रियल मैड्रिड ने उसे निखारने में अहम भूमिका निभाई। खेल के प्रति उनकी एलीगेंस और दूरदृष्टि ने उन्हें रियल मैड्रिड के फैंस का आदर्श बना दिया था। 

ये खिलाड़ी अपने भाई जुआन के साथ साल 1914 में युवा टीम के साथ जुड़ा। जल्दी ही इस खिलाड़ी ने सीनियर टीम में भी अपनी जगह बना ली, इसके बाद रियल मैड्रिड सभी खिताब के दावेदार के रूप में खेल रही थी। दूसरे सीजन के दौरान इस फ्रेंच खिलाड़ी ने एरेनास डी ग्यूचो के साथ यादगार फाइनल मुकाबला खेलते हुए स्पेनिश कप का
खिताब जीता।

उस मैच में एक समय उनकी टीम हार रही थी लेकिन उन्होंने शानदार गोल करते हुए टीम की मैच में वापसी कराई। इसके बाद रिकार्डो अल्वारेज के गोल के कारण टीम खिताब
जीतने में सफल रही।  

फ्रेंचमैन ने इसके बाद रियल यूनियन के साथ खेलना जारी रखा, जहां उन्होंने 3 और खिताब जीते। अपनी राष्ट्रीय टीम के साथ इस खिलाड़ी ने
एंटवर्प ओलंपिक में हिस्सा लिया, जहां वह सेमीफाइनल तक पहुंचे। उस टूर्नामेंट में स्पेन ने सिल्वर मेडल जीता था।

संन्यास के बाद 1952 में गोल्डन जुबली के मौके पर पेटिट को गोल्ड और हीरे का स्मृति चिन्ह दिया गया। इस तरह क्लब ने अपने महान खिलाड़ी को सम्मान दिया।

सम्मान

  • 1 स्पेनिश कप,
  • 3 रीजनलचैंपियनशिप