एमिरेट्सएडिडास

1991-2000

महाद्वीपीय खेल में टॉप पर पहुंचने के लिए पिछले एक दशक में रियल मैड्रिड का पुननिर्माण किया गया। इस दौरान एक और बास्केटबॉल दिग्गज खिलाड़ी अरविदास सबोनिस रियल मैड्रिड में शामिल हुए। दरअसल उन्होंने 1995 में अपना आठवां यूरोपीय कप जीतकर इतिहास रचा था। इसके बाद हेरेरोस, बोडिरोगा और जोर्डजेविक जैसे खिलाड़ियों के आने से यह साबित हुआ कि टीम अधिक खिताब के साथ अपना शतक पूरा करना चाहती है।

1992 की गर्मियों में रियल मैड्रिड ने अरविदास सबोनिस की सेवाओं का प्राप्त करना शुरु किया। जहां उन्हें 'the tsar' का उपनाम दिया गया। वह मरियाने जाकुटुटो की अध्यक्षता वाली एक नए प्रोजेक्ट का एक महत्वपूर्ण हिस्सा थे, जो टीम के दौड़ने की देखरेख करते थे क्योंकि वह उन्हें महाद्वीपीय खेल के टॉप पर ले जाना चाहता था। अगर एक अलग नज़रिए के साथ देखें तो वहां उन्हें रोकने वाला कोई नहीं था।

1994 में सर्बियाई कोच ज़ेल्को ओब्राडोविक की नियुक्ति और जो अरलाकस का टीम के साथ करार होना क्लब का लक्ष्य पूरा हुआ, जो कोर्ट पर उनके एक आइडियल पार्टनर के रूप में थे। सर्बियाई कोच ने पिछले तीन सीज़न में दो अलग-अलग टीमों (पार्टिज़न और जोवेंटुत) के साथ यूरोलीग खिताब हासिल किए थे।

1991 - 2000
  1. एक निर्णायक फैसला

    1992 में रियल मैड्रिड ने उस समय के सबसे बेहतरीन यूरोपीय खिलाड़ी अरविदास सबोनिस को उतारा था।

  2. यूरोप के टीएसएआर

    रियल मैड्रिड ने 1995 में बेहतरीन खिलाड़ियों के साथ 'सबास' के आसपास अपना आठवां यूरोपियन कप का खिताब जीता।

  3. डेजन बोडिरोगा एक प्रतिभावान खिलाड़ी थे

    डेजन बोडिरोगा 1996 में शुरू हुई न्यूज मैड्रिड प्रोजेक्ट के एक प्रमुख सदस्य थे। इस बहुमुखी सर्बियाई खिलाड़ी ने अपने बेहतरीन प्रतिभा से मैड्रिड को काफी प्रभावित किया।

  4. जोर्डजेविक एक जन्मजात चैंपियन खिलाड़ी

    साशा जोर्डजेविक 1999-00 सीज़न में पहले से ही रियल मैड्रिड में शामिल हुए थे। वह एक बेहतरीन प्वाइंट गार्ड खिलाड़ी थे, जिन्होंने लीगा एसीबी जीत में अपनी एक निर्णायक भूमिका निभाई थी।

Siguiente Anterior

टाइगर की आंख जैसी नज़रें

1991 में टीम से जॉर्ज कार्ल के बाहर निकलने से क्लिफर्ड लुइक ने टीम की जिम्मेदारी संभाली। वह एक खिलाड़ी के रूप में छह यूरोपियन कप के विजेता रह चुके हैं। इसके साथ ही वह नब्बे दशक में रियल मैड्रिड पर अपनी एक अलग छाप छोड़ना चाहते थे। जहां उनकी 'बाघ की आंख' जैसा हाव-भाव उनको काफी लोकप्रिय बना दिया, जिसे वह अपने खिलाड़ियों में देखना चाहते थे। वहीं उन्होंने अपने दो अलग-अलग अवधि के दौरान (1991 से 1994 और 1998-99 सीज़न) में टीम का नेतृत्व किया, जिसमें मैड्रिड ने दो लीग खिताब अपने नाम किए। इसके साथ ही एक कोपा डेल रे और 1992 में एक शानदार सपोर्टा कप जीता हासिल किया। जहां बास्केट के आखिरी मिनट में मेरी और रिकी ब्राउन की वजह से सफलता हासिल की।

 

 

 

 

 

एक बार फिर बने यूरोप के बादशाह

रियल मैड्रिड ने अरविदास सबोनिस के साथ 1994-95 के सीज़न में काफी लोकप्रियता हासिल की। वह ज़रागोज़ा में यूरोलीग में अंतिम चार मुकाबले में एक बेहतरीन टीम के रूप में थे। जहां मैड्रिड ने दो मुकाबलों में अपने बेहतरीन संयम और शानदार डिफेंस का परिचय दिया। जिसका परिणाम टीम का आठवां यूरोपियन कप था। इसी के साथ अटलांटिक के इस ओर सबोनिस युग का आखिरी लम्हा था और अरलुकस, बीरुकोव, सैंटोस और एंटोनियो मार्टीन के करियर की शुरुआत थी। सबा टाइटल को हासिल करने के बाद वह बिना किसी संदेह के महाद्वीप के एक बेहतरीन खिलाड़ी के तौर पर रहे। वहीं उसके बाद वह एनबीए खेलने चले गए।

 

 

 

 

 

 

एक बार फिर यूरोप का किंग

हमेशा टीम के साथ बेहतरीन खिलाड़ी रहे

रियल मैड्रिड ने 1995 का खिताब और 1996 के अंतिम चार मुकाबले के बाद खुद को पुननिर्माण किया। जहां टीम को हमेशा उनके बेहतरीन खिलाड़ियों और उनकी वफादारी के लिए जाना जाता है। वहीं इस दौरान पेड्रो गेरैन्डिज़ ने क्लब के कार्यालय में वापसी की और दिग्गज स्पेनिश फॉरवर्ड अल्बर्टो हेरेरोस के साथ करार किया और इस दौरान यूरोपियन दिग्गज खिलाड़ी डेजान बोडिरोगा भी क्लब पहुंचे। इसी के साथ टीम अपने शानदार खिलाड़ियों पाब्लो लासो, अल्बर्टो अंगुलो और जुआन ओरेंगा के साथ 1997 में रीप्लो वेरोना के खिलाफ सपोर्ट कप हासिल किया।

 

 

 

 

 

 

20वीं सदी का आखिरी खिताब: मैड्रिड

रियल मैड्रिड ने पहले नेशनल लीग के साथ पहला एसीबी लीग का खिताब अपने नाम किया था। वहीं, 20वीं सदी की आखिरी लीग भी बिल्कुल अलग नहीं थी और हर एक अलग-अलग सीजन के बाद रियल मैड्रिड एसीबी 1999-00 के फाइनल में पहुंच गया, जहां उन्होंने बार्सिलोना की यात्रा की। जहां उस समय के सबसे बेहतरीन खिलाड़ी अल्बर्टो हेरेरोस घायल हो गए और फाइनल सीरीज में केवल 14 मिनट ही खेल सके। फिलहाल बारका सबके पसंदीदा खिलाड़ियों में से एक थे। हालांकि इस दौरान रियल मैड्रिड ने पलाऊ में दो मैच अपने नाम किए और जिसमें पांचवां और निर्णायक मुकाबला भी शामिल था। साशा जोर्डजेविक जिन्होंने गर्मियों से पहले कैटलन को छोड़ दिया था, वह अपने पूर्व क्लब को परेशान करने के लिए वापस आ गए। इसी के साथ क्लब ने अपना 28 वां लीग खिताब भी जीता।

 

 

 

 

 

 

20वीं सदी का आखिरी लीग खिताब: मैड्रिड

सम्मान

यूरोपियन कप - 1

यूरोपियन कप

1
यूरोपियन कप विजेताओं के कप - 2

यूरोपियन कप विजेताओं के कप

2
लिगास - 3

लिगास

3
कोपास डेल रे - 1

कोपास डेल रे

1
क्रिसमस टूर्नामेंट - 6

क्रिसमस टूर्नामेंट

6
Siguiente Anterior
Search