एमिरेट्सएडिडास
  1. 1982 के विश्व कप का उत्सव 
  2. सेंटिआगो बर्नबौ के सुधार

क्योंकि सेंटिआगो बर्नबौ पर विश्व कप के योग्यता स्तर के मैच और प्रतियोगिता का फाइनल खेला जाना था, तो स्टेडियम में और भी सुधार कार्य किया गया। यह बात ज़रूरी थी कि टीवी पर देख रहे करोड़ों लोगों के साथ साथ स्टेडियम में आने वाले दर्शकों को भी इस स्टेडियम के आधुनिक रूप का स्वाद मिले। लगभग पूरे स्टेडियम में ही सुधार कार्य किया गया।

स्टेडियम की क्षमता घटा कर 98,776 कर दी गयी, जिसमें की 67,000 दर्शक खड़े हो कर देखने वालो में से थे। मैदान पर पड़ने वाली रोशनी की क्षमता को बढ़ाया गया, और सबसे आधुनिक तकनीक वाले इलेक्ट्रोनिक स्कोरबोर्ड लगाए गए। धातु का चंदवा लगाया गया जिस से पचहत्तर प्रतिशत स्टैंड ढक गए थे। यह कार्य होने के बाद बुरे मौसम में भी दर्शक आराम से बैठ सकते थे।

Search